आधुनिक वक्त में बढ़ते तनाव, बीमारियां और स्लिम फिट रहने की चाहत ने योग को घर-घर पहुंचाने में मदद की है। योग की प्रसिद्धि के साथ गलि-गलि में योग शिक्षकों की गिनती भी हर दिन बढ़ती जा रही है। वहीं, इस दौर में दुर्भाग्य से योग सीखने और सिखाने की प्रक्रिया में भी भारी गिरावट आई है। कभी जल्दी रिजल्ट पाने, तो कभी शिक्षकों की कम और ग़लत जानकारियों ने योग और लोगों को फ़ायदा पहुंचाने से ज़्यादा नुक़सान ही किया है। योग शिक्षक होना एक पेशा नहीं; ज़िम्मेदारी है, ऐसे में यदि आप योग टीचर बनना चाहते हैं तो सही मार्गदर्शन में सही तरह से प्रैक्टिस, टीचिंग सिद्धांत और दोनों को एप्लिकेशन को बखूबी समझना होगा।
वशिष्ठ योग के योगगुरु धीरज कहते हैं कि योग अभ्यास के साथ हमें योग के दर्शन को समझना होगा और दर्शन के ये सूत्र ना सिर्फ हमारे जीवन को रुपांतरित करते हैं, बल्कि हम योग के जरिए दूसरों में भी दिव्य रुपांतरण ला पाएंगे। 

क्या है ख़ास वशिष्ठ योग के टीचर ट्रैनिंग में 

VASHISHTHA YOGA योग 99%  प्राक्टिकल और 1% थ्योरी माना जाता है। ऐसे में, योग के नाम पे पोथी ,योग सूत्रों या महज गीता के ज्ञान को श्लोकसह रटा देना वशिष्ठ योग का मक़सद नहीं है। हमें समझना होगा कि एक योग टीचर को रोज-रोज की क्लास में स्टूडेंट को सिखाने में क्या-क्या समस्या आती है। उससे बड़ी बात ये है कि हम जो जानते है उसे प्रयोग में कैसे लाएं। इस समस्याओं को समझते हुए हमने टीचर ट्रैनिंग में ऐसे सिलेब्स को तैयार किया है जो आपको एक बेहतरीन टीचर के रुप में तैयार करेगा। आप ना सिर्फ एक कॉन्फिडेंस में टीचिंग कर पाएंगे बल्कि योग में अपने करियर को भी संवार पाएंगे।

आसन और एलाइन्मेंट

आसन करना भर काफी नहीं, सही एलाइन्मेंट यानी सही तरीक़े से करने से ना सिर्फ रिजल्ट में जल्दी और ज्यादा लाभ मिलेगा, बल्कि ये हमारे अंदर की बंद ग्रंथियों को दूर कर प्राण के फ्लो को बेहतर करेगा। वशिष्ठ योग टीचर ट्रैनिंग में एक-एक आसन के सही एलाइन्मेंट की पड़ताल होती है।   

आसन में एडजस्टमेंट और मोडिफिकेशन  

स्टूडेंट के रुप में एक टीचर के पास कई तरह के लोग आते हैं। नए स्टूडेंट से लेकर एडवांस स्टूडेंट, बीमार से लेकर मोटे, कम flexible से लेकर बच्चे-बुजुर्ग तक। ऐसे में हर स्टूडेंट के हिसाब और जरुरत से आसन कराने के लिए एडजस्टमेंट की जरुरत है। मोडिफिकेशन योग प्रैक्टिस को आसान बनाने के साथ ज्यादा लाभकारी बनाता है और किसी भी तरह के नुक़सान की संभावना से दूर रखता है। योग टीचिंग में आप सीखेंगे कि कैसे हर स्टूडेंट के लिए आसनों का एडजस्टमेंट या सुधार या मोडिफिकेशन अलग-अलग होता है। ये जानकारी ही आप को स्टूडेंट के बीच भरोसा पैदा करता है। 

कैसे डिज़ाइन करें योग सीरीज़  

एक ही बीमारी में एक डॉक्टर छोटे बच्चे और बड़ों को दवा का एक ही डोज़ नहीं देता। ठीक उसी तरह एक योग टीचर को समझना होगा कि हमें योग अभ्यास को कैसे व्यक्ति की ज़रुरत के हिसाब से डिज़ाइन करें। इसके लिए ज़रुरी है कि योग अभ्यास एक व्यवस्थित क्रम में हो। आसन और प्राणायाम के क्रम के साथ काउंटर आसन का भी सीरीज़ बनाने में ख़्याल रखना होता है। वशिष्ठ योग टीचर ट्रैनिंग में सीरीज़ बनाने की कला और इसके पीछे के विज्ञान को बताया जाता है। 

बेसिक योग थेरेपी 

योग के जरिए थेरेपी या चिकित्सा देना एक बहुत गहन विषय है। लंबे अभ्यास, योग की सूक्ष्म समझ और सालों की टीचिंग के बदौलत आप थेरेपी को समझना शुरु कर पाते हैं। टीचर ट्रैनिंग में थेरेपी की बेसिक जानकारियों की भी शेयर की जाती है। इससे ना सिर्फ आप ख़ुद अपनी कई व्यक्तिगत समस्याओं को योग के जरिए हल कर पाते हैं, बल्कि दूसरों को भी योग चिकित्सा का लाभ पहुंचा पाते हैं। 

टिच बिद कॉन्फिडेन्स  

आप एक अच्छे योग साधक है, योग को बारीकियों को भी बहूत खूब समझ रहें होते हैं, इसके बावजूद जब योग सीखाने की बात हो तो परेशानी खड़ी हो जाती है। टीचिंग में कॉन्फिडेंस की ये कमी कई बार देखने को मिलती है। एक अच्छा योग शिक्षक ना सिर्फ अच्छा प्रैक्टिसनर होता है बल्कि उसे योग को सरल-सहज तरीक़े से दूसरों को शेयर करने का गुण भी आता है। अपने निजी अनुभवों से योगगुरु धीरज आपके अंदर के इस डर को आपकी शक्ति बनाने के गुर सिखाते हैं। टीचर का व्यक्तित्व, कम्यूनिकेशन का तरीक़ा, टीचिंग की कला और योग की सूक्ष्म समझ जैसी कई बातें आपको एक प्रभावशाली योग शिक्षक के तौर पे तैयार करती है।
सौ बात की एक बात है कि वशिष्ठ योग टीचर ट्रैनिंग महज एक सर्टिफिकेट कोर्स नहीं है, बल्कि ये वो पाठशाला है जहां योग शिक्षण को मिशन और प्रोफेशन के साथ एक विज़न के तौर पे तैयार किया जाता है।

योग अभ्यास में दें धार 

टीचर ट्रैनिंग के लिए पूरा वक्त आप नहीं निकाल पा रहें हैं, तो योग अभ्यास का एक बेहतर आप्शन आपके पास है। आप सिर्फ एडवांस लेवल की प्रैक्टिस के लिए खुद को रजिस्टर करा सकते हैं। योग अभ्यास में अष्टांग पावर विन्यास योग, हठयोग, कोर प्रैक्टिस और आर्म्स बैलेंस मुख्य फोकस के रुप में होगा।  

योगगुरु धीरज -अ्ष्टांग योग डेमो के लिए यहां क्लिक करें   

रजिस्ट्रेशन के लिए संपर्क करें- 6354325086    

चीन के स्टूडेंट के साथ योगगुरु धीरज वशिष्ठ के टीचर ट्रैनिंग के अंश

थाइलैंड में योगगुरु धीरज वशिष्ठ के जरिए टीचर ट्रैनिंग के अंश

नमस्ते  
शेयर कर दूसरे योगी मित्रों को जानकारी दें  
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
. . . . Continued
  1. April 29, 2018

    Namaste
    I want to learn asana ,pranayam ,band and meditation techniques

    If swami ji and other master takes these camp please tell me all details
    Time and dates and necessary thing’s
    Wating for your message eagerly
    Parnam :Preet Dutta

    • August 27, 2018

      जुड़ें – youtube.com/yogagurudheerajvyf

Write a comment:

*

Your email address will not be published.

© 2015 VYF Health | Ashtanga Yoga, Hatha Yoga.
Top
#vyfhealth
Follow us:                         
Send