back-pain-lady-w1280

हर कोई कभी ना कभी थोड़े-बहुत कमर दर्द की शिकायत से दो-चार होते रहें हैं। मौजूदा वक्त पे लगातार बैठ के काम करने की आदत, हमारी जीवन-शैली और फिजिकल रुप से एक्टिव नहीं रहने की वजहों  ने कमर दर्द की समस्या को बड़े पैमाने पे सामने ला खड़ा किया है। समस्या और गहरी तब हो जाती है जब आप छोटे-मोटे दर्द को पेन-किलर की आड़ में भूला बैठते हैं। पेन-किलर से आपको बस तकलीफ की ख़बर नहीं लगती, समस्या तो अपनी जगह रहती ही है। कमर दर्द को ख़त्म करने के लिए हमें कई मोर्चे पे काम करना होगा। योग के आसन को सही तरीक़े से आजमाया जाए तो शर्तिया तौर पे कमर दर्द की समस्या से आजीवन छुटकारा मिल सकता है। वशिष्ठ योग की टीचिंग के जरिए कई लोगों के क्रॉनिक पेन को ख़त्म किया जा सका है      

पहला मोर्चा – कमर दर्द से सहज छुटकारा 

सबसे पहले अगर आपको कमरदर्द है तो योग थेरेपी से इसे फिक्स किया जाए। ज्यादातर लोग ऐसी योग प्रैक्टिस करने लगते हैं जो दर्द से छुटकारे की जगह दर्द बढ़ाने वाला होता है। योगगुरु धीरज वशिष्ठ के जरिए डिज़ाइन ये प्रैक्टिस कमरदर्द की स्थिति में भी करना आसान रहेगा। पहले इस विडियो को सावधानी से देखें और अपनी सुविधा के हिसाब से प्रैक्टिस करना शुरु करें। हर दिन की प्रैक्टिस से आपको दर्द में राहत मिलता दिखेगा। नियमित अभ्यास के अलावा दूसरा कोई विकल्प नहीं  

अब नहीं रहेगा कमर दर्द ( योग विडियो हिंदी ) 

दूसरा मोर्चा – कमर से संबंधित किसी भी समस्या (Back Pain,Sleep Disk,Spinal Desease) में पाएं आराम 

एक बार हमें कमर दर्द से छुटकारा मिल जाता है फिर हम सबकुछ भूल बैठते हैं। ख्याल रहें, अगर हमने पीठ की मांसपेशियां और रीढ़ की हड्डी की मजबूती पे काम ना किया तो फिर से कमर दर्द की चपेट में आ जाएंगें।। नीचे दिए गएं योग आसन सीरीज के जिस आसन में आप कम्फर्ट ना हो उसे स्किप करें  
 

तीसरा मोर्चा- एब्स को करना होगा स्टॉन्ग     

शरीर विज्ञान का मानना है कि हमारे स्पाइन को बैक की मांसपेशियों और फ्रंट के एब्स से सपोर्ट मिलती है। मौजूदा वक्त में एब्स की कमज़ोरी एक आम समस्या है। एब्स के कमज़ोर पड़ने से स्पाइन की रोजमर्रा गतिविधि में बैक मसल्स को ओवर वर्क करना पड़ता है। कमर पे आ रहा लगातार ये लोड दर्द की शिकायत सामने ले आता है। एक बार जब आप कमर दर्द की समस्या से मुक्ति पा लें, तो बैक मसल्स के साथ एब्स की मजबूती पे काम करें। योग में एब्स के लिए जो आसन बताए गए हैं वो जिम की एब्स वर्कआउट की तुलना में ज्यादा आंतरिक रुप से उसे मजबूत करता है। नीचे दिए गए बेसिक एब्स योग आसन को ध्यानपूर्वक नियमित अभ्यास में लाएं   
नोट- कमर दर्द की स्थिति में एब्स से संबंधित प्रैक्टिस ना करें या योग्य शिक्षक की निगरानी में ही करें   

इन योग अभ्यास के साथ इस बात को भी ख्याल रखें कि आप ऑफिस या घर में स्पाइन सीधी रख या सपोर्ट देकर बैठें 
नमस्ते 
शेयर करें 
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
. . . . Continued
  1. July 28, 2017

    Thanks Guruji.

  2. July 31, 2017

    Very use ful….Thank you sir

Write a comment:

*

Your email address will not be published.

© 2015 VYF Health | Ashtanga Yoga, Hatha Yoga.
Top
#vyfhealth
Follow us:                         
Send